• Saturday, October 21, 2017
Breaking News

'बेटा बचाओ' होकर रह गया है मोदी सरकार का नारा - राहुल

राजनीति Oct 11, 2017       36
'बेटा बचाओ' होकर रह गया है मोदी सरकार का नारा - राहुल

द करंट स्टोरी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर प्रहार करना अभी भी जारी रखा है। उन्होंने गुजरात में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे की कंपनी की संपत्ति तीन साल में बेहिसाब बढ़ जाने के खुलासे पर चुप्पी को लेकर प्रधानमंत्री पर तंज कसा और कहा कि मोदी सरकार का नारा अब 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' नहीं बल्कि 'बेटा बचाओ' होकर रह गया है। 

उन्होंने समाचार पोर्टल 'द वायर' पर अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी टेम्पल इंटरप्राइजेज की संपत्ति मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद महज तीन साल में 16000 गुना बढ़ने का खुलासा किए जाने का जिक्र करते हुए आश्चर्य प्रकट किया कि क्या सरकार भ्रष्टाचार से लड़ाई इसी तरह लड़ रही है?

कहा जा रहा है कि जय शाह की वह कंपनी पिछले साल 8 नवंबर को नोटबंदी होने से पहले ही बंद हो गई थी।

राहुल ने जनसभा में कहा, "मोदीजी ने 2014 में 'मेक इन इंडिया' और 'स्टार्टअप इंडिया' की घोषणा की थी। मुझे नहीं पता, शाहजी के मन में क्या ख्याल आया कि उन्होंने नवाचार का एक बड़ा तरीका ईजाद कर लिया, जिससे तीन-चार महीने में ही 50,000 की संपत्ति 80 करोड़ रुपये की हो गई। उन्हें प्रतिभूति-रहित कर्ज दे दिया गया। मजे की बात यह है कि इतने शानदार तरीके से तरक्की करने वाली कंपनी को जय शाह जी ने 2016 में ही बंद कर दिया। इस वाकये पर खुद को भारत के चौकीदार बताने वाले मोदीजी चुप क्यों हैं। वह इस पर एक शब्द नहीं बोलते।"

उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक नारा दिया था 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' लेकिन वह तो अमित शाह के बेटे को बचाने में लग गए।" राहुल ने यही बात अपने ट्वीट में भी लिखा है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष इन दिनों गुजरात दौरे पर हैं और विधानसभा चुनाव नजदीक होने के कारण जनसभाएं कर रहे हैं। उन्होंने युवाओं को रोजगार देने में नाकामी को लेकर भी मोदी सरकार पर तंज कसा।

Related News

राहुल ने जय शाह मामले में मोदी पर चुप्पी साधने का आरोप लगाया

Oct 21, 2017

द करंट स्टोरी। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी के टर्नओवर में अचानक हुए कथित इजाफे के मुद्दे पर 'चुप्पी' के लिए तंज कसते हुए कहा कि वह न तो इस मुद्दे पर कुछ बोलते हैं और न ही किसी को बोलने देते हैं। राहुल ने ट्वीट कर कहा, "मित्रों, शाह-जादे के बारे में न बोलूंगा, न किसी को बोलने...

Comment