• Wednesday, December 13, 2017

भारती एयरटेल करेगी टाटा टेलीकॉम का अधिग्रहण

विविध Oct 12, 2017       44
भारती एयरटेल करेगी टाटा टेलीकॉम का अधिग्रहण

द करंट स्टोरी। भारती एयरटेल और टाटा ने गुरुवार को घोषणा की कि दोनों कंपनियों ने टाटा टेलीसर्विसेज लि. (टीटीएसएल) और टाटा टेलीसर्विसेज महाराष्ट्र लि. (टीटीएमएस) के कारोबार को भारती एयरटेल में शामिल करने पर सहमत हुए हैं। 

यह अधिग्रहण नियामकीय मंजूरियों के अधीन है। हालांकि बयान में कितनी रकम में यह अधिग्रहण की जा रही है, इसकी जानकारी नहीं दी गई है। 

संयुक्त वक्तव्य में कहा गया है कि यह एकीकरण कर्ज मुक्त नकद-मुक्त आधार पर किया जाएगा, हालांकि भारती एयरटेल टाटा द्वारा दूरसंचार विभाग को स्पेक्ट्रम के लिए किए जानेवाले भुगतान की जिम्मेदारी ली जाएगी, जिसका स्थगित आधार पर भुगतान किया जाना है। 

समझौते के मुताबिक भारती एयरटेल टाटा के टीटीएसएल और टीटीएमएल के देश भर के 19 सर्किलों में (17 टीटीएसएल के तहत और दो टीटीएमएल के तहत) उपभोक्ता मोबाइल कारोबार (सीएमबी) का अधिग्रहण कर लेगी। 

भारती एयरटेल के अध्यक्ष सुनील भारती मित्तल ने कहा, "यह भारतीय मोबाइल उद्योग में समेकन की दिशा में एक महत्वपूर्ण विकास है और मजबूत तकनीकी और ठोस स्पेक्ट्रम पोर्टफोलियो के जरिए विश्वस्तीय किफायती दूरसंचार सेवाएं मुहैया कराकर भारत की डिजिटल क्रांति का नेतृत्व करने की हमारी प्रतिबद्धता को मजबूती प्रदान करता है।"

टाटा संस के अध्यक्ष एन. चंद्रशेखरन ने कहा, "हमारा मानना है कि आज का समझौता टाटा समूह और उसके हितधारकों के लिए सबसे अनुकूल समाधान है। हमारे लंबे समय से जुड़े ग्राहकों और हमारे कर्मचारियों के लिए सही घर खोजना हमारी प्राथमिकता रही है। हमने विभिन्न विकल्पों पर विचार किया और भारती के साथ यह समझौता कर खुश हैं।"

गोल्डमैन सैक्स (इंडिया) सिक्यूरिटी प्रा. लि. इस समझौते में टाटा की वित्तीय सलाहकार है।

Related News

महंगाई दर 3.58 फीसदी से बढ़कर 4.88

Dec 12, 2017

द करंट स्टोरी। खाद्य पदार्थो और ईधन की कीमतों में तेज बढ़ोतरी के कारण नवंबर में देश की सालाना मुद्रास्फीति दर आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) के 4 फीसदी के अंदर रखने के लक्ष्य से ज्यादा पहुंच चुकी है।  आधिकारिक आंकड़ों से मंगलवार को यह जानकारी मिली। सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर में उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) बढ़कर 4.88 फीसदी पर रही, जो अक्टूबर में 3.58 फीसदी पर थी। 

Comment