• Saturday, October 21, 2017
Breaking News

दीपावली में इन शहरों में हुआ सबसे ज्यादा ध्वनि प्रदूषण

Exclusive Oct 10, 2017       327
दीपावली में इन शहरों में हुआ सबसे ज्यादा ध्वनि प्रदूषण

द करंट स्टोरी, भोपाल। दीपावली के दौरान न केवल शहरों में वायु प्रदूषण बल्कि ध्वनि प्रदूषण का स्तर भी तय मानकों से ज्यादा बढ़ जाता है। 

दीपावली के दिन मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड प्रदेश के मुख्य शहरों के रिहायशी और कमर्शियल क्षेत्रों में ध्वनि का स्तर मापता है। द करंट स्टोरी ने पीसीबी की इन्हीं रिपोर्टों के आधार पर पिछले पांच सालों में प्रदेश के सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों की सूची तैयार की ​है। 

तय मानकों के अनुसार ध्वनि का स्तर जब 60 डेसिबल से ज्यादा तो यह नुकसान दायक होता है और प्रदूषण की श्रेणी में आता है। 

ध्वनि प्रदूषण में पिछले पांच वर्षों में भोपाल, इंदौर, उज्जैन, गुना व ग्वालियर में सबसे ज्यादा प्रदूषण हुआ है। 

टॉप 5 प्रदूषित शहर 

2016

कमर्शियल क्षेत्र Shahdol (113.3) Nagda (111.6) Singrauli (110.7) Indore       (110) Jabalpur (108)
रहवासी क्षेत्र Ujjain  (118.4) Nagda (105.5) Dewas (104.7) Pithampur (104.0) Dhar  (104.0)

2015

कमर्शियल क्षेत्र Indore (111.5) Nagda (108.5) Dewas (104.8) Guna     (104.0) Rewa (103.7)
रहवासी क्षेत्र Ujjain (124.8) Nagda (115.9) Jabalpur (110) Singrauli (109.3) Dhar  (108.1)

2014

कमर्शियल क्षेत्र Indore (135.0) Gwalior (90.0) Satna    (84.4) Sagar   (83.4) Guna      (74.8)
रहवासी क्षेत्र Indore (135.0) Ujjain    (95.5) Gwalior (86.2) Bhopal (77.0) Satna      (72.6)

2013

कमर्शियल क्षेत्र Indore (125.1) Guna  (116.8) Sagar  (114.5) Dhar (109.0) Bhopal  (104.0)
रहवासी क्षेत्र Ujjain  (124.4) Indore (110.0)

Guna  (108.4)

Sagar (88.4) Singrauli (87.9)

2012

कमर्शियल क्षेत्र Indore (145.0) Satna (100.0) Guna   (97.0) Singrauli (97.0) Shahdol (92.8)
रहवासी क्षेत्र Dhar   (136.0) Indore (135.0) Satna (115.0) Ujjain    (112.5)

Guna     (97.0)

(नोट: उक्त आंकड़ें पीसीबी की रिपोर्ट पर आधारित है। शहर के नाम के आगे कोष्ठक में दीपावली के दौरान ध्वनि का स्तर (डेसिबल) है।)

-पीसीबी की डिटेल रिपोर्ट के लिए क्लिक करें।

-वायु प्रदूषण के टॉप 5 शहर जानने के लिए क्लिक करें

Related News

भोपाल रेल मंडल LED SCAM: शाम को बंद कमरे में क्यों भराई गई एमबी बुक?

Oct 16, 2017

प्रवेश गौतम, भोपाल। हमने अपनी पिछली रिपोर्ट (भोपाल रेल मंडल में फैल रही लाखों के घोटाले की रोशनी, एक ADRM की भूमिका संदिग्ध!) में आपको बताया था कि भोपाल रेल मंडल में एलईडी लाइट फिटिंग के लिए निकाले गए टेंडर में नियमों को ताक पर रखकर खरीदी की गई और ठेकेदार को फायदा पहुंचाने के लिए लगभग 15 दिनों के अंदर भुगतान भी कर दिया गया।  क्या है मामला? भोपाल रेल मंडल के इलेक्ट्रिकल (जनरल)...

Comment