RLY DRM: गेंदे के फूल की खुशबू

Published By :  Pravesh Gautam

May 27,2018 | 05:04:41 am IST |  8725

महक रही इंजीनियरिंग शाखा

लो कर लो बात

आज चच्चा ने फ़ोन किया और गाने लगे.....

"ससुराल गेंदा फूल...."

मैंने चौंक के पूछा हुआ क्या है चच्चा, गाना क्यों गा रहे हो.....?

"मियां फ़र्ज़ी भतीजे, देखना हो तो देखो कैसे भोपाल रेल मंडल की इंजीनियरिंग शाखा में पिछले कुछ महीनों से 'गेंदे के फूल की खुशबू' खूब फैल रही है....."

" मियां फ़र्ज़ी भतीजे, DRM के सानिध्य में फल फूल रहे भ्रष्टाचार को देखना है तो, ........

...... गेंदे के फूल को सूँघो, यकीन नहीं हो तो खलासी के पद के बाद, संविदा नियुक्ति पाने वाले को देखो......."

इतना कहकर चच्चा ने फ़ोन रख दिया।

मुझे तो कुछ समझ नहीं आया शायद DRM और Sr. DEN (Co) समझें.....

वैसे इन गेंदा के फूल की खुशबू, कई बार यहां भी सूंघी जा सकती है, जिसके कई वीडियो चच्चा के पास हैं.....

वैसे चच्चा की बात का क्या भरोसा.....

लो कर लो बात

फ़र्ज़ी भतीजे से संपर्क करें:
➡ +919425079785
➡ thecurrentstory@gmail.com

 (नोट: चच्चा एक काल्पनिक किरदार है और इसके द्वारा कही गई बातों (Gossip) का वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं है, और यदि है तो वह केवल एक इत्तेफाक है।)

Tags :